अलवर जिले की पीएचसी चांदौली को एम्बुलेंस सहित आवश्यक मेडिकल संसाधन किए भेंट

0
300

अलवर। श्रम राज्य मंत्री टीकाराम जूली ने सोमवार को अलवर जिले के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र (पीएचसी) चांदौली में पहुंचकर एम्बुलेंस को आमजन की सेवार्थ समर्पित किया। साथ ही उन्होंने 2 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर, 7 बैड मय गद्दे, 20 कुर्सियां, 200 कोविड मेडिकल किट, 100 लीटर सेनेटाइजर एवं सैंकडों एन-95 मास्क भेंट किए। इस दौरान पूर्व केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि पीएचसी में सभी आवश्यक मेडिकल संसाधन उपलब्ध कराए जाएंगे ताकि यहां के लोगों को इलाज के लिए अलवर नहीं जाना पडें। ग्रामीणों की मांग पर श्रम राज्य मंत्री श्री जूली ने चांदौली पीएचसी को क्रमोन्नत कराकर एक मॉडल सीएचसी के रूप में विकसित कराने का आश्वासन दिया। उन्होंने चांदौली ग्राम पंचायत की पेयजल समस्या दूर करने का भी आश्वासन दिया। श्री जूली ने बताया कि चांदौली गांव के लोग काफी जागरूक हैं और अब तक 1800 से अधिक व्यक्तियों ने कोरोना का टीका लगवा लिया है। गांव में सिर्फ कोविड का एक एक्टिव केस है। इस दौरान राजगढ-लक्ष्मणगढ विधायक जौहरी लाल मीना, योगेश मिश्रा, संजय यादव, डॉ. गौरव यादव, रिपु दमन, सरपंच ऎमना बानो तथा सीएमएचओ डॉ. ओ.पी मीना सहित संबंधित अधिकारी एवं प्रबुद्ध व्यक्ति उपस्थित थे।

विधायक कोष से सीएचसी बहादुरपुर व अकबरपुर को मिली एम्बुलेंस

श्रम राज्य मंत्री टीकाराम जूली ने सोमवार को मोती डूंगरी स्थित अपने कार्यालय परिसर से दो एम्बुलेंस को हरी झण्डी दिखाकर सीएचसी बहादुरपुर एवं अकबरपुर के लिए रवाना किया। श्री जूली ने बताया कि अलवर ग्रामीण क्षेत्र की सीएचसी मालाखेडा, बहादुरपुर एवं अकबरपुर तथा पीएचसी चांदौली के लिए विधायक निधि कोष से चार एम्बुलेंस उपलब्ध कराई गई है। उन्होंने बताया कि इन सभी संस्थानों में आवश्यकता अनुसार बैड, ऑक्सीजन कंसंट्रेटर एवं अन्य उपकरण उपलब्ध कराए गए हैं। उन्होंने बताया कि आज बहादुरपुर सीएचसी के लिए एम्बुलेंस के साथ 10 बैड मय गद्दे व बिस्तर, दो ऑक्सीजन कंसंट्रेटर, 20 कुर्सियां उपलब्ध कराई गई है। इसी प्रकार अकबरपुर सीएचसी के लिए 20 बैड मय गद्दे व बिस्तर, एक एक्सरे मशीन एवं अन्य उपकरण उपलब्ध कराए गए हैं। इस अवसर पर पूर्व केन्द्रीय मंत्री श्री सिंह ने कहा कि इन एम्बुलेंसों से अलवर ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को काफी राहत मिलेगी। उन्होंने कहा कि जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में स्थित सभी चिकित्सा संस्थानों को मजबूत किया जा रहा है ताकि आमजन को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध हो तथा कोरोना की तीसरी लहर निष्प्रभावी रहे। इस दौरान कोरोना की द्वितीय लहर में उत्कृष्ट कार्य करने वाले 10 होमगार्ड कर्मियों को कोरोना कर्मवीर योद्धा के रूप में प्रशस्ति पत्र, मास्क, सैनेटाइजर एवं पोशाक भेंट कर सम्मानित किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here