शिक्षा आमजन से जुड़ा सीधा विषय है – श्रम एवं नियोजन मंत्री

0
796
शिक्षा

जयपुर। श्रम एवं नियोजन मंत्री डाॅ जसवंत सिंह यादव ने कहा कि शिक्षा आम जन से सीधा जुड़ा हुआ विषय है इसलिए सरकार के साथ आमजन की सक्रिय सहभागिता से सरकारी स्कूल उत्कृष्ट शिक्षा केंद्र के रूप में विकसित होंगे। श्रम मंत्री डाॅ. यादव आज लक्ष्मणगढ़ तहसील के ग्राम मौजपुर के राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में सरकार और भामाशाह द्वारा कराए गए विकास कार्यों उद्घाटन कर उपस्थित जनसमूह को संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि सरकार शिक्षा को सर्वोच्च प्राथमिकता दे कर राज्य को शिक्षा के क्षेत्र में अग्रणी बनाने के लिए निरंतर प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा कि इस आर्थिक युग में रेशमी देवी नानक चन्द मित्तल फाउंडेशन द्वारा जिस प्रकार शिक्षा के लिए निस्वार्थ भाव से कार्य किया जा रहा है वे साधुवाद के पात्र है। उन्होंने कहा कि मित्तल फाउंडेशन के मुख्य ट्रस्टी डाॅ. एस, के. मित्तल को लगातार सरकार ने चैथी बार भामाशाह सम्मान प्रदान किया है यह उनकी शिक्षा के प्रति समर्पण भाव को दर्शाता है। उन्होंने ग्रामीणों की मांग पर ग्राम मौजपुर में 22 अगस्त को जिला स्तरीय रोजगार मेला आयोजित कराने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि मेले में स्थानीय युवाओं को रोजगार के अवसर उपलब्ध होंगे युवा इसका लाभ उठाएं। उन्होंने कहा कि श्रम विभाग में श्रमिक पंजीयन करा कर अनेक सरकारी योजनाओं का लाभ उठाएं। कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए अलवर डेयरी चेयरमैन बन्नाराम मीणा ने कहा कि क्षेत्र की समस्याओं का निराकरण जनप्रतिनिधियों के सहयोग से कराया जाएगा। उन्होंने विद्यालय वाटर कूलर लगवाने की घोषणा की। उन्होंने बताया कि विद्यालय में दो कक्षा-कक्षों का निर्माण स्थानीय विधायक के कोष से कराए जाने का प्रयास किए जाएंगे। मितल फाउंडेशन मुख्य ट्रस्टी डाॅ. एस.के. मित्तल ने फाउंडेशन द्वारा शिक्षा के क्षेत्र में कराई जा रहे कार्यों के बारे में विस्तार से बताया।

इनका किया उद्घाटन
विद्यालय में रमसा द्वारा 21 लाख रुपए की लागत से दो कक्षा-कक्षों, मित्तल फाउंडेशन द्वारा लगभग 11 लाख रुपये की लागत से निर्मित एक हाल व बरामदे का उद्घाटन किया।

राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय और आंगनबाड़ी का किया निरीक्षण
मंत्री ने आंगनबाड़ी केंद्र में मित्तल फाउंडेशन द्वारा लगवाए के झूलों का उद्घाटन कर आंगनबाड़ी केंद्र का निरीक्षण कर आंगनवाड़ी संचालिका को निर्देश दिए कि बच्चों के पोषाहार और प्राथमिक शिक्षा गुणवत्ता पूर्ण प्रदान करें। उन्होंने रा. उ. प्रा. विद्यालय का निरीक्षण कर विद्यार्थियों से वार्तालाप कर मिलने वाले पोषाहार और शिक्षा के बारे में जानकारी प्राप्त की।

अव्वल रहे विद्यार्थियों को सम्मानित एवं नव प्रवेशित बच्चों का किया स्वागत
श्रम मंत्री ने विद्यालय की छात्रा गुलनाज बानो को कक्षा 12 में 92 प्रतिशत अंक, कक्षा 10 की छात्रा आरती सैनी को 82 प्रतिशत अंक तथा श्री कटारा स्कूल की छात्रा अवी सैनी को 95 प्रतिशत अंक प्राप्त करने पर अपनी तरफ से प्रत्येक को 21 सौ रुपए तथा डाॅक्टर मित्तल की तरफ से भी प्रत्येक को 21 सौ रुपए नगद प्रोत्साहन राशि एवं प्रतीक चिन्ह प्रदान कर सम्मानित किया। उन्होंने विद्यालय में नव प्रवेशित 5 विद्यार्थियों का माला पहनाकर और तिलक लगाकर पाठ्य पुस्तक एवं स्कूल बैग प्रदान कर स्वागत किया। प्रधानाचार्य श्री राजेन्द्र प्रसाद गुप्ता ने विद्यालय का वार्षिक प्रतिवेदन प्रस्तुत किया। सरपंच श्रीमती रिंकू सैनी ने आगन्तुकों को धन्यवाद ज्ञापित किया। मंच सचालन श्री गिरीश गुप्ता ने किया।
इस अवसर पर लक्ष्मणगढ प्रधान ने भी अपने विचार व्यक्त किये। कार्यक्रम में माताश्री रेशमी देवी, श्रीमती अल्का मितल सहित अनेक गणमान्य व्यक्ति, भारी संख्या में ग्रामीण, विद्यार्थी एवं स्टाॅफ उपस्थित था। श्रम एवं नियोजन मंत्री डाॅ जसवंत सिंह यादव ने शिक्षकों से आह्वान करते हुए कहा की सरकार राजकीय विद्यालयों के लिए व्यापक संसाधन उपलब्ध करा रही है। शिक्षक इन संसाधनों का समर्पित भाव से उपयोग कर राज्य को शिक्षा के क्षेत्रा में अग्रणी बनाएं।

श्रम मंत्री डाॅ. जसवंत सिंह यादव आज रेशमी देवी नानक चन्द मित्तल फाउंडेशन द्वारा एन. ई. बी. स्थित राजकीय माध्यमिक विद्यालय रेलवे स्टेशन में प्रार्थना स्थल, पाथ वे एवं जल संरक्षण कार्य के विकास कार्यों का उद्घाटन कर संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि मित्तल फाउंडेशन को सरकार द्वारा शिक्षा के क्षेत्र में अभूतपूर्व योगदान देने के लिए लगातार चौथी बार भामाशाह सम्मान प्रदान करना फाउंडेशन का शिक्षा के प्रति समर्पण भाव दर्शाता है। उन्होंने कहा कि सरकारी विद्यालयों के उत्थान के लिए सरकार अनेक योजनाएं चला रही है। राज्य के भामाशाह अपेक्षानुसार सहयोग प्रदान कर रहे हैं इस स्थिति में सरकारी विद्यालयों की शिक्षा की गुणवत्ता में उत्तरोत्तर वृद्धि हो रही है। उन्होंने कहा कि शिक्षक अपनी प्रभावी भूमिका निभाकर सरकारी विद्यालय को निजी विद्यालयों से मीलों आगे तक ले जा सकते हैं। उन्होंने विद्यालय को क्रमोन्नत कराने में अपेक्षित सहयोग प्रदान करने की बात कही।

कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए शहर विधायक श्री बनवारी लाल सिंघल ने कहा कि शिक्षा में गुणवत्ता की दृष्टि से सरकारी विद्यालय निसंदेह श्रेष्ठ है। उन्होंने कहा कि सरकारी विद्यालय के शिक्षक निजी विद्यालय की तुलना में अधिक योग्यताधारी है। उन्होंने कहा कि आवश्यकता इस बात की है कि शिक्षक समर्पित भाव से शिक्षण कार्य कराएं। उन्होंने कहा कि श्रेष्ठ प्रणाम देने वाले शिक्षकों को सम्मानित किया जाएगा। उन्होंने मित्तल फाउंडेशन द्वारा शिक्षा के क्षेत्र में किए गए कार्यों की सराहना की। उन्होंने विद्यालय में सर्व शिक्षा अभियान के माध्यम से दो कक्षा कक्ष बनवाने की बात कही। उन्होंने कहा कि विद्यालय में विलंब आने की आदत में सुधार लाने के लिए विलंब से आने वाले शिक्षकों की जांच के लिए वे स्वयं प्रतिदिन शहर के एक सरकारी विद्यालय का विद्यालय खुलने के समय निरीक्षण कर जांच करेंगे। इस अवसर पर रमसा के एडीपीसी सुरेन्द्र यादव, श्रीमती अल्का मितल, गिरीश गुप्ता सहित अनेक गणमान्य व्यक्ति, विद्यार्थी व स्टाॅफ के सदस्य उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here