ममता अवार्ड से मिलेगा बालिका शिक्षा को प्रोत्साहन – प्रमोद बंसल

0
503

जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव प्रमोद बंसल ने घांघू की रुकसार बानो को बारहवीं कक्षा में सर्वाधिक अंक प्राप्त करने पर दिया ममता अवार्ड

घांघू ।बीरबल नोखवाल चूरू जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव प्रमोद बंसल ने कहा है कि समाज का यह दायित्व है कि वह होनहार बालिकाओं को आगे बढ़ाए। बालिकाएं शिक्षित होंगी और आगे बढ़ेंगी तो ही वास्तव में समाज सशक्त होगा।
बंसल रविवार को घांघू के सामुदायिक भवन में आयोजित कार्यक्रम में होनहार बालिका रुकसार बानो को ममता अवार्ड से सम्मानित करने के बाद ग्रामीणों को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर रहे थे। पुरस्कार स्वरूप बालिका रुकसार को ग्यारह हजार रुपये एवं सम्मान पत्र प्रदान किया गया। विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव बंसल ने इस इस अवार्ड के लिए ग्राम सेवा सहकारी समिति के अध्यक्ष परमेश्वर लाल दर्जी की सराहना करते हुए कहा कि इस अवार्ड से घाँघू की बालिकाओं को प्रेरणा मिलेगी, उनमें स्वस्थ प्रतिस्पर्धा की भावना को बल मिलेगा और बालिका शिक्षा को प्रोत्साहन मिलेगा। न्यायिक मजिस्ट्रेट चंद्रशेखर पारीक ने कहा कि विद्यालय स्तर पर इस प्रकार का अवार्ड शुरू करना अत्यंत सराहनीय है और इससे दूसरे लोगों को भी प्रेरणा लेनी चाहिए। उन्होंने कहा कि यदि बालिका विधि के क्षेत्र में अपना कैरियर बनाना चाहती है तो ‘विधि सत्संग’ संस्था के जरिए पूरी तरह निःशुल्क मार्गदर्शन प्रदान किया जाएगा। ग्राम सेवा सहकारी समिति के पूर्व अध्यक्ष परमेश्वर लाल दर्जी ने बताया कि प्रत्येक वर्ष शहीद राजेश फगेड़िया उमावि में बारहवीं कक्षा में प्रथम रहने वाली बालिका को यह अवार्ड दिया जाएगा। इस दौरान सरपंच विमला देवी, राजस्थान विश्वविद्यालय में एसोसिएट प्रोफेसर गीता सामौर, पूर्व सरपंच नाथी देवी, सामाजिक कार्यकर्ता महावीर नेहरा, वरिष्ठ विधि अधिकारी महेंद्र सैनी, राजकीय गोयनका स्कूल के प्रधानाचार्य कासम अली आदि बतौर अतिथि मंचस्थ थे।उल्लेखनीय है कि घांघू गांव के रमजान अली की पुत्री रुकसार को माध्यमिक शिक्षा बोर्ड, राजस्थान की उच्च माध्यमिक परीक्षा वर्ष 2019-20 में 91.20 प्रतिशत अंक प्राप्त कर शहीद राजेश फगेड़िया राजकीय उमावि में प्रथम रहने पर यह अवार्ड दिया गया है।इस अवसर पर उप सरपंच पूर्ण सिंह, शहीद वीरांगना मधु फगेड़िया, वार्ड पंच बरजी देवी, संतोष देवी, व्याख्याता अग्नि कुमार शर्मा, पतराम मेघवाल, विद्याधर रेवाड़, बजरंग लाल पारीक, सहायक विधि परामर्शी शुभकरण, वरिष्ठ विधि अधिकारी धर्मपाल शर्मा, देवेंद्र शर्मा, राजेश माटोलिया, संजय दर्जी, सुखलाल सिहाग, हरफूल रेवाड़, साँवर मल राहड़, अग्निकुमार शर्मा, राधेश्याम दर्जी, राजेंद्र मेघवाल, हीरालाल भादू, शारदा फगेड़िया, सहायक निदेशक (जनसंपर्क) कुमार अजय, मानसिंह सामौर, आरती सामौर, सांवलाराम पंच, वार्ड पंच अमित शर्मा, खींवाराम राहड़, नज़ीर खान, रामलाल फगेड़िया, सांवर मल रेवाड़, सुखलाल सिहाग, सुगनाराम मांझू, पशु चिकित्सा अधिकारी डॉ ओमप्रकाश, नवीन यादव, इकबाल खान एडवोकेट, करणी राम नैण, अदरीश खान, पूर्व सूबेदार सफी खान, अकरम खान, शौकत खान, बीरबल नोखवाल, नवरत्न दर्जी, दिनेश दर्जी, सत्यप्रकाश मीणा, नारायणा राम राहड़, पतराम मेघवाल, नेमीचंद जांगिड़, केसरदेव प्रजापत, फारुख अली, इरफान खान, आदिल खान, राकेश नाई, विनोद मेघवाल, अजय जांगिड़, अभय नेहरा, निखिल राहड़, अकरम, सविता देवी, ममता दर्जी, बेबी दर्जी, पूजा रानी, आजम खां, सोनम दर्जी, भंवर लाल भादू, सुभाष सेवदा, राजवीर राठौड़, विजेंद्र सिहाग आदि मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here