डॉ. आईदानसिंह भाटी और डॉ. नीरज दइया को ‘मनुज साहित्य-सम्मान

0
711

चूरू। डॉ. ओ.पी.षर्मा चौरिटेबल ट्रस्ट द्वारा जाने वाला ‘मनुज साहित्य-सम्मान 2020’ बीकानेर के डॉ. नीरज दइया को एवं ‘मनुज साहित्य-सम्मान 2021’ जोधपुर के डॉ॰ आईदानसिंह भाटी को दिया जायेगा। उल्लेखनीय है कि दोनों ही सम्मान्य साहित्यकार राजस्थानी-हिन्दी के कवि, आलोचक और अनुवादक के रूप में देष भर में विषिष्ट पहचान रखते हैं। गद्य और और पद्य में आपका विषद सृजन हैं और साथ ही दोनों साहित्यकार अपने समकक्ष को साथ लेकर आने वाली पीढी को भी साहित्य सृजन के लिए प्रेरित कर रहे हैं। इससे पूर्व मनुज साहित्य-सम्मान, जयपुर के नन्द भारद्वाज व श्रीगोपाल काबरा, चिड़ावा के श्याम जांगिड़, चूरू के प्रदीप शर्मा और भंवरसिंह सामौर, श्रीडंूगरगढ के श्याम महर्षि को दिया जा चुका है। प्रतिवर्ष अगस्त माह में होने वाला सम्मान-समारोह कोरोना महामारी के कारण गत वर्ष नहीं किया जा सका। वैष्विक स्तर पर अनिष्चितताओं, आषंकाओं और अन्य स्थानीय समस्याओं के कारण गत वर्ष के साहित्यकार का नाम भी प्रकाषित नहीं किया जा सका। इस पुरस्कार के अन्तर्गत ग्यारह हजार नकद राशि के अलावा शॉल, साफा एवं स्मृति-चिह्न देकर सम्मानित किये जाने की परम्परा रही है। इस वर्ष पुनः कोरोना महामारी के कारण बनी विपरीत स्थितियों को देखते हुए यह समारोह, सरकार के दिषा-निर्देष व स्थानीय प्रशासनिक गाइड लाइन के अनुसार ही किया जाएगा। परिस्थितियां सामान्य होते ही गत वर्ष और इस वर्ष के दोनों साहित्य-सम्मान एक साथ, एक ही सार्वजनिक मंच पर दिये जायेंगे। कार्यक्रम के स्थान एवं तिथि की घोषणा बाद में की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here