ओ.टी.एस. के 63वें स्थापना दिवस पर म्यूजिक विंग ‘मंजिरा’ तथा राजस्थानी संस्कृति से सुसज्जित बस का उद्घाटन

0
494

जयपुर। हरिश्चन्द्र माथुर राजस्थान राज्य लोक प्रशासन संस्थान ओटीएस का 63वां स्थापना दिवस शुक्रवार को संस्थान में उद्घाटन समारोह सघन वृक्षारोपण के साथ उत्साहपूर्वक आरम्भ किया गया जिसमें 300 छायादार एवं फलों के वृक्ष लगाये गये। समारोह के विशिष्ठ अतिथि संस्थान के पूर्व निदेशक खेमराज चौधरी एवं रोहित आर. ब्राण्डन थे। अतिथियों ने संस्थान कार्यकाल के दौरान स्मृतियों एवं अनुभवों को साझा किया। 14 से 20 नवम्बर 2019 तक संस्थान में विविध गतिविधियां यथा खेलकूद, सांस्कृतिक, साहित्यिक एवं अन्य गतिविधियों से संस्थान गुलज़ार रहेगा।
उद्घाटन कार्यक्रम के साथ ही संस्थान के विश्रांति में ’’मंजीरा’’ संगीत विंग की शुरूवात भी फीता काटकर संस्थान के निदेशक अश्विनी भगत, पूर्व निदेशक रोहित आर. ब्राण्डन एवं खेमराज चौधरी द्वारा किया गया इस। रीपा के निदेशक अश्विनी भगत ने बताया की इस संगीत विंग का उद्देश्य प्रशिक्षु अधिकारियों में छिपी हुई कलाओं खासकर संगीत, साहित्य को बनाए रखने के साथ-साथ राजकीय कार्यों में स्ट्रेस या अन्य तनाव के क्षणों में ये अभिरूचियॉं तनाव दूर करने में मदद करती है। इसमें विभिन्न भारतीय वाद्य यन्त्रों के साथ-साथ एवं पश्चात वाद्य यन्त्र भी उपलब्ध रहेंगे। कोई भी प्रशिक्षु अधिकारी, संकाय, अधिकारी एवं कर्मचारी संगीत विशेषज्ञों द्वारा उनकी रुचि के वाद्य यंत्रों को बजाने का प्रशिक्षण एवं अभ्यास कर सकते हैं। इस अवसर पर प्रशिक्षणार्थियो के साथ निदेशक अश्विनी भगत, रोहित आर. ब्राण्डन, एस.एस. बिस्सा ने भी अपनी गायन एवं एवं संगीत की प्रस्तुतियों सें माहौल को संगीतमय बना दिया।
नवाचार के तहत ऑटोमोबाईल कला को बढ़ावा देने के लिए संस्थान की 30 वर्ष पुरानी एक बस को नया रूप देकर बहुत ही आकर्षक बनाया है। इस बस पर कार्टिस्ट टीम के कलाकारों द्वारा राजस्थान की रंगारंग संस्कृति, कला, रीति-रिवाज, त्यौहारों व स्मारकों के आकर्षक चित्र बनाए गए हैं। ओटीएस में प्रशिक्षण प्राप्त करने वाले आईएएस, आरएएस एवं अन्य सेवा के अधिकारियों द्वारा राज्य के विभिन्न स्थानों के भ्रमण के उद्देश्य से इस बस का नवीनीकरण कराया गया है ताकि राज्य की रंग बिरंगी संस्कृति व कला को प्रोत्साहन मिल सके ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here