शुद्ध के लिए युद्ध अभियान : चूरू शहर में तेल व मसाला के दो नमूने लिए

0
407

एक मिष्ठान भंडार पर मिठाई डिब्बा के साथ मिठाई तौलने पर एक हजार का चालान किया, बाट-माप सत्यापन प्रदर्शित नहीं करने पर पांच सौ रुपये व असत्यापित बांट-माप पर दो हजार रुपये का चालान

चूरू। जिले में चलाये जा रहे शुद्ध के लिए युद्ध अभियान में जिला कलक्टर सांवरमल वर्मा के निर्देशानुसार टीम ने चूरू शहर में तेल व मसाला के दो नमूने लिये। एक मिष्ठान भंडार पर मिठाई डिब्बे के साथ मिठाई तौलने पर एक हजार रुपये का चालान किया गया। इसी तरह बांट-माप सत्यापन प्रर्दशित नहीं करने पर पांच सौ रुपये व असत्यापित बांट-माप पर दो हजार रुपये का चालान किया गया। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ मनोज शर्मा ने बताया कि खाद्य सुरक्षा टीम ने चूरू कस्बे में मसाला व तेल के दो नमूने लिये।खाद्य सुरक्षा अधिकारी फूल सिंह बाजिया ने बताया ने बताया कि गरम मसाला उद्योग जोहरी सागर चूरू से लाल मिर्च पाउडर तथा सुभाष चौक से फर्म बैजनाथ सीताराम से रिफाइंड मूंगफली तेल का नमूना लिया। व्यापारियों को शुद्ध खाद्य सामग्री बेचने के पाबंद लिए किया गया। विधिक बांट व माप अधिकारी महिपाल सिंह ने बताया कि कालुराम स्वीटस पर मिठाई के डिब्बे के साथ मिठाई तौल कर नेट क्वांटिटी कम देने पर एक हजार का चालान किया तथा असत्यापित बांट माप उपयोग पर दो हजार रुपये का चालान किया गया। फर्म बैद्यनाथ सीताराम पर बांट माप सत्यापन प्रर्दशित नहीं करने पर पांच सौ रुपये का चालान किया गया। इस दौरान तहसीलदार धीरज झाझडिया सहित अधिकारी मौजूद रहे।सीएमएचओ मनोज शर्मा ने बताया कि अभियान के दौरान दूध, मावा, पनीर, आटा, बेसन, खाद्य तेल, घी, सूखा मेवा, मसाला की जांच की जाएगी। अभियान के दौरान डिकॉय ऑपरेशन भी किए जाएंगे। जांच दल द्वारा संस्थाओं का निरीक्षण कर नमूने लिए जाएंगे तथा फूड सेफ्टी एवं स्टैंर्डड एक्ट 2006 एवं नियम 2001 के प्रावधानों के अनुसार मिलावटी माल को मौके पर ही नष्ट करने की कार्यवाही की जाएगी। अभियान 31 मार्च तक जारी रहेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here