पत्रकारो को फ्रंट लाइन वर्कर का दर्जा दिए जाने की मांग

0
974

चूरू। राजस्थान श्रमजीवी पत्रकार संघ के जिलाध्यक्ष देशदीपक किरोड़ीवाल के नेतृत्व में संघ से जुडे पत्रकारों ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को ज्ञापन प्रेषित करते हुए जिले के पत्रकारों को फ्रंटलाइन वर्कर्स का दर्जा दिए जाने की मांग की है।ज्ञापन में कहा गया है कि पिछले लॉकडाउन से लेकर अब तक जिले के पत्रकार चिकित्सा, पुलिस तथा प्रशासन के साथ कंधे से कंधा मिलाकर सहयोग कर रहे है। महामारी के इस दौर में आमजन तक सूचना तथा प्रसाशन तक आमजन की पीडा को पंहुचाने के लिए ​पत्रकारों ने दिन—रात एक कर अंजाम दिया है।लगातार फील्ड में रहने के चलते अनेक पत्रकार साथीयों ने कोरोना संक्रमण का दंश भी झेला है।ज्ञापन में लिखा है कि राजस्थान में वैक्सीनेशन अभियान के तहत चिकित्सा, स्वास्थय, पुलिस तथा प्रसानिक विभाग के कर्मचारियों को फ्रंटलाइन वर्कर्स के तोर पर प्राथमिकता से टीका लगया गया है जबकि पत्रकारों को इस सूची से बाहर रखा गया है।आमजन के बीच जाकर सूचना एकत्र करने के चलते पत्रकारों के संक्रमित होने का खतरे को नकारा नही जा सकता है इसलिए पत्रकारों को भी फ्रंटलाइन वर्कर्स की श्रेणी में शामिल कर वेक्सिनेशन करवाया जाना चाहिए। ज्ञापन वरिष्ठ पत्रकार माधव शर्मा, जेपी जोशी, राजेन्द्र शेखावत, नरेन्द्र राठौड़, जगदीश सोनी, देवराज लाटा, नरेश पारीक, राकेश कुमार आशुतोश आदि से चर्चा करके भेजा गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here