धूमधाम से मनाई सावित्री बाई फुले की जयंती

0
609

चूरू। भारत की प्रथम शिक्षिका कही जाने वाली सावित्री बाई फुले की जयंती धूमधाम के साथ मनाई गई। नगर परिषद सभापति पायल सैनी की अध्यक्षत में आयोजित कार्यक्रम में समाज के लोगों ने नवनिर्मित ज्योति राव फुले सर्किल पर सावित्री बाई फुले को श्रद्धासुमन अर्पित किए। सभापति पायल सैनी ने सावित्री बाई फुले के जीवन पर प्रकाश ड़ालते हु कहा कि सावित्री बाई फुले ने 19वीं शताब्दी में अपने पति दलित चिंतक व समाज सुधारक महात्मा ज्योतिबा फुले से प्रेरित होकर उन्होने सामाजिक चेतना फैलाई।उन्होने अशिक्षा, छूआछूत, स्त्रियों के अधिकारों समेत समाज में फैली अनेक कुरूतियों के खिलाफ आवजा उठाई। सभापति ने युवाओं से सावि​त्री बाई फुले द्वारा दिखाए गए मार्ग पर चलने का आह्वान किया। बीसूका के पूर्व उपाध्यक्ष आशाराम सैनी ने सावित्री बाई फुले को देश में महिला शिक्षा क्रांति की ज्योति बताया। सैनी समाज के जिलाध्क्ष डूंगर बाबा ने कहा कि जिस दौर में महिलाएं घर तक सीमित थी उस जमाने में सावित्री बाई फुले ने महिलाओं को एकजुट करने का साहस दिखाया व सामाजिक कुरूतियों के प्रति जागरूक ​करने के प्रयास किए। समाज के वरिष्ठ नेता लालचंद सैनी ने श्रीमती फुले द्वारा एक जनवरी 1848 में नौ बालिकाओं को लेकर पुणे में कन्या पाठशाला की शुरूआत को अभूतपूर्व कार्य बताया।
सैनी समाज तहसील अध्यक्ष जयंत परिहार नें बताया की सावित्री बाई फुले की 189 वी जयंती के अवसर पर सैनी समाज नें माननीय मुख्यमंत्री के नाम जिला कलेक्र्ट साहेब को तीन सूत्रीय माँग हेतु ज्ञापन सोैपा गया इसमे चूरू जिले मे नव निर्मित महिला महाविधालय का नाम देश की प्रथम् शिक्षिका सावित्री बाई फुले के नाम से सुशोभित हों, इसके साथ ही चूरू मे माँ सावित्री बाई फुले के नाम से किसी सार्वजनिक जगह या चैराहे का नाम शिक्षा की देवी के नाम से नामकरण हों, उसके साथ ही राजस्थान सरकार से माँ सावित्री बाई फुले कीजयंती के अवसर पर ऐच्छिक अवकाश घोषित किया जाये। उपरोक्त मांगो की प्रतिलिपि सभापति पायल सैनी जी को भी ज्ञापन के रूप मे दी गईं ।इस अवसर पर तहसील अध्यक्ष जयंत परिहार, फुले ब्रिगेड के जिला प्रमुख गजानंद सैनी, धर्मेन्द्र राक्सिया, अनिल बालान, नवनियुक्त आरजेएस जया सैनी, प्रभु सैनी सुरेन्द्र बालान, प्रभ बालान, सहित बड़ी संख्या में समाज के लोग उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here