हर परिवार को मुफ्त दिए जाएंगे औषधीय पौधे

0
341

वन विभाग की घर-घर औषधि योजना को लेकर जिला कलक्टर सांवर मल वर्मा ने ली बैठक, कहा-परिवहन एवं वितरण के लिए बनाएं समुचित कार्ययोजना, जिले में इस वर्ष करीब साढे तीन लाख परिवारों को मिलेगा योजना का लाभ

चूरू। कोरोना महामारी के समय में एक तरफ लोगों ने इम्युनिटी बढाने वाले और शरीर को रोगों से दूर करने वाले पौधों की महत्ता जानी, वहीं राज्य सरकार ने औषधीय पौधों को प्रत्येक घर तक पहुंचाने की कवायद में ‘घर-घर औषधि’ योजना शुरू की है, जिसके तहत जिले के प्रत्येक परिवार को तुलसी, गिलोय, कालमेघ और अश्वगंधा जैसे पौधे निःशुल्क वितरित किए जाएंगे।
शुक्रवार को इस संबंध में आयोजित जिला स्तरीय टास्क फोर्स की बैठक में जिला कलक्टर सांवर मल वर्मा ने योजना के सफल क्रियान्वयन को लेकर तैयारियों की समीक्षा की और आवश्यक निर्देश दिए। बैठक में पौधों के वितरण की कार्ययोजना, प्रसार-प्रसार, अतिरिक्त संसाधनों की व्यवस्था, परिवहन व्यवस्था, नवाचार आदि विषयों में चर्चा कर संबंधित को निर्देशित किया गया। जिला कलक्टर ने कहा कि प्रत्येक घर तक पौधे पहुंचाने के लिए समुचित कार्ययोजना बनाकर कार्य करें। उन्होंने बताया कि योजना के क्रियान्वयन के लिए जनप्रतिनिधियों, पंचायती राज संस्थाओं, विभिन्न राजकीय विभागों, विद्यालयों, औद्योगिक घरानों, को साथ लेकर वृहद् अभियान चलाया जाएगा। उन्होंने कहा कि इन औषधीय पौधों की महत्ता को भी प्रचारित करें तथा लोगों को इसके लिए प्रोत्साहित करें।
एसीएफ राकेश दुलार ने बताया कि जिले में इस वर्ष 3 लाख 47 हजार 900 परिवारों के लिए 15 लाख 30 हजार 760 पौधे तैयार किए गए हैं। चूरू, भालेरी, लीलकी, सांडवा, सरदारशहर, गोपालपुरा, रतनगढ़, राजलदेसर व तारानगर में स्थित नर्सरियों से विभिन्न विभागों एवं संस्थाओं के जरिए ये पौधे वितरित किए जाएंगे। उन्होंने बताया कि योजना पांच वर्ष के लिए लागू की जा रही है। प्रत्येक परिवार को तुलसी, गिलोय, अश्वगंधा एवं कालमेघ के दो-दो पौधे पांच वर्ष में तीन बार उपलब्ध करवाए जाएंगे। प्रथम वर्ष में जिले के आधे परिवारों को आठ-आठ पौधे उपलब्ध करवाए जाएंगे। अगले वर्ष शेष परिवारों को ये पौधे वितरित किए जाएंगे। तीसरे वर्ष से सभी परिवारों को 8-8 पौधे और वितरित किए जाएंगे। चौथे व पांचवे वर्ष में वैकल्पिक तौर पर आधे-आधे परिवारों को आठ-आठ पौधे मुहैया कराए जाएंगे।
सीईओ सत्तार खान ने महानरेगा अंतर्गत 21 जून से शुरू हो रहे पौधरोपण को लेकर निर्देश दिए। एसीईओ डा नरेंद्र चौधरी ने इस
मौके पर विभिन्न विभागों एवं संस्थानों को लक्ष्यों के अनुसार पौधरोपण सुनिश्चित करने के लिए कहा। बैठक में नगर परिषद कमिश्नर हेमाराम चौधरी, सहायक निदेशक (जनसंपर्क) कुमार अजय, खेल अधिकारी ईश्वर सिंह लांबा, डीएसओ सुरेंद्र महला, एडीईओ सांवर मल गुर्जर, कृषि उपनिदेशक दीपक कपिला, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के सहायक निदेशक अशफाक खान, लोहिया कालेज के डा जेबी खान, सानिवि एक्सईएन बीएल सोनी, कमल वशिष्ठ, सीडीपीओ सीमा सोनगरा सहित अधिकारीगण मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here