बच्चों के दांतों का सुरक्षा चक्र बनेगी अत्याधुनिक मोबाइल डेंटल वैन

0
699

राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के तहत संभाग को मिली सौगात

बीकानेर। राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम बीमार बच्चों के लिए लगातार वरदान साबित हो ही रहा है अब एक और मील का पत्थर इसमें जुड़ गया है। बीकानेर संभाग को अत्याधुनिक मोबाइल डेंटल वैन के रूप में ऐसी दन्त चिकित्सा ईकाई मिली है जिसमे एक्स-रे, स्केलिंग, रूट कैनाल ट्रीटमेंट, फिलिंग आदि जैसी दन्त सेवाएं गाँव से शहर तक उपलब्ध हो सकेगी, बिलकुल निःशुल्क। वैन का संचालन एनजीओ जीवीके इएमआरआई द्वारा किया जाएगा जिसमे 2 डेंटिस्ट, एक तकनीशियन, एक सहायक व ड्राईवर रहेंगे।
शुक्रवार को बीकानेर संभाग के संयुक्त निदेशक डॉ. एच. एस. बराड़ व सीएमएचओ डॉ. देवेन्द्र चैधरी ने वैन को हरी झंडी दिखाकर सेवा का शुभारम्भ किया। चिकित्सा मंत्री कालीचरण सर्राफ, पीएचएस वीनू गुप्ता व मिशन निदेशक एनएचएम नवीन जैन द्वारा 2 अक्टूबर को 7 संभागों की 7 वैन का लोकार्पण कर संभागों को रवाना किया गया था। डॉ. बराड़ ने इसे राज्य सरकार की ओर से संभाग के बच्चों के लिए बेहतरीन तोहफा बताया। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. देवेन्द्र चैधरी ने बताया कि वैन की सहायता से संभाग के चारों जिलों में बारी-बारी से 10-10 दिन शिविर लगाए जाएंगे। भ्रमणशील दन्त चिकित्सा ईकाई के माध्यम से शुक्रवार को श्रीकोलायत में शिविर लगाकर बच्चों की दन्त समस्याओं का उपचार किया गया। ये बच्चे आरबीएसके के आयुष चिकित्सक दलों द्वारा विभिन्न विद्यालयों व मदरसों में स्क्रीनिंग के दौरान चयनित किए गए थे। अगला 2 दिवसीय शिविर 9 व 10 तारीख को पूगल में लगाया जाएगा। उद्घाटन के अवसर पर आरसीएचओ डॉ. रमेश गुप्ता, लेखाधिकारी विजयशंकर गहलोत, बीसीएमओ नोखा डॉ. श्याम बजाज, डीपीएम सुशील कुमार, आईईसी समन्वयक मालकोश आचार्य, जीवीके के रीजनल मेनेजर नवनीत तिवारी, कार्यक्रम अधिकारी दिलीप सैनी, ईएमई जहांगीर खान, तुफैल अहमद, डेंटिस्ट डॉ. सचिन सारस्वत, डॉ. अलकेश चैधरी सहित विभागीय अधिकारी कर्मचारी मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here