रैन बसेरों में हो समुचित व्यवस्थाएं: बंसल

0
493

चूरू। राजस्थान राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण, जयपुर एवं अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण (जिला एवं सेशन न्यायाधीश) बलजीत सिंह के निर्देशानुसार बुधवार को जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सचिव प्रमोद बंसल द्वारा विधिक चेतना समिति की चतुर्थ त्रौमास की बैठक का आयोजन किया गया।
बैठक में समिति के सदस्य अभिभाषक संघ अध्यक्ष पवन कुमार शर्मा, जनसम्पर्क विभाग के सहायक निदेशक कुमार अजय, अधिवक्ता रामेश्वर प्रजापति, सांवरमल स्वामी, राजेन्द्र कुमार राजपुरोहित एवं सामाजिक कार्यकर्ता संतोष परिहार आदि उपस्थित रहे। सचिव प्रमोद बंसल ने बैठक में विचार-विमर्श करते हुये समाज में विशिष्ट रूप से महिलाओं और समाज के कमजोर वर्गों में विधिक चेतना को प्रोन्नत करने लिये अधिक से अधिक विधिक साक्षरता शिविरों का आयोजन किये जाने, विधिक चेतना के लिये पैम्पलेट, पुस्तिकाएं और समाचार पत्र प्रकाशित/वितरण विधिक साक्षरता शिविरों के दौरान किये जाने, फ्रंट ऑफिस के माध्यम से विधिक चेतना प्रोन्नत करने के लिये अधिक प्रभावी रूप से कार्य किये जाने पर बल दिया।।उन्होंने विचार गोष्ठियों और कर्मशालाओं का प्रबन्ध करने, जनसाधारण के बीच विशेष रूप से समाज के कमजोर वर्गों को संविधान द्वारा और समाज कल्याण के विधानों और अन्य अधिनियमितियों के साथ ही साथ प्रशासनिक कार्यक्रमों और उपायों आदि के द्वारा प्रत्याभूत उनके अधिकारों, फायदों और विशेषाधिकारों के विषय में विधिक साक्षरता और विधिक चेतना प्रसारित करने के लिये समुचित कदम उठाने, निचले स्तर पर विशेष तौर पर अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजातियों, महिलाओं और ग्रामीण एवं नगरीय श्रमिक वर्गों के बीच में कार्य वाली स्वयंसेवी समाज कल्याण संस्थाओं का समर्थन प्राप्त करने के लिये विशेष प्रयास करने, विधिक सेवा कार्यक्रमों की विभिन्न पहलुओं के बारे में जनसाधारण को सूचित करने के लिये विडियो/वृत्तचित्र, प्रचार सामग्री, साहित्य आदि तैयार करना और उनको प्रकाशित करने एवं जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की विभिन्न गतिविधियों की जानकारी हेतु प्रस्ताव लिए गए। ।

सचिव प्रमोद बंसल ने बताया कि उच्चतम न्यायालय द्वारा दीवानी रिट याचिका पी.यू.सी.एल. बनाम भारत संघ व अन्य एवं रालसा के निर्देशानुसार जिले में आश्रय विहिन गरीब व असहाय व्यक्तियों के स्थाई एवं अस्थाई निवास के लिये रैन बसेरों में समुचित व्यवस्था हेतु जिला कलक्टर, जिला पुलिस अधीक्षक, आयुक्त नगरपरिषद, स्टेशन मास्टर, थानाधिकारी कोतवाली, राज. पथ परिवहन विभाग, थानाधिकारी आरपीएफ को पत्रा जारी कर प्रचार प्रसार एवं रेन बसरों की उचित व्यवस्था हेतु लिखा गया है। इसी क्रम में रेलवे स्टेशन के अनाउंसमेंट के जरिये आश्रयविहीन गरीब व असहाय व्यक्तियों के स्थाई एवं अस्थाई निवास के लिये रैन बसेरों के प्रचार-प्रसार हेतु निर्देशित किया गया है। इस संबंध में जिला कलक्टर के माध्यम से सायं 6 से 10 बजे तक पर्याप्त संख्या में कार्मिकों का दल बनाया जाकर रेलवे स्टेशन, बस स्टेण्ड व अन्य सार्वजनिक स्थानों, जहां पर मजबूर,गरीब व असहाय व्यक्ति सामान्यतः विपरीत परिस्थितियों में सर्दी के मौसम में रहने को मजबूर हैं, को रैन बसेरों तक पहुंचाये जाने एवं विशेष अभियान चलाये जाने हेतु निवेदन किया गया। इस क्रम में तालुका विधिक सेवा समितियों को भी उपखण्ड स्तर पर ऐसे व्यक्तियों को रेन बसेरों तक पहुंचाने एवं समुचित व्यवस्था हेतु आवश्यक निर्देश प्रदान किये गये हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here