0
1131

चूरू। राज. राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण, जयपुर के निर्देशानुसार शुक्रवार को बालिका दिवस के अवसर पर अनिवार्य शिक्षा एवं बालिका शिक्षा के प्रचार प्रसार हेतु जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के अध्यक्ष (जिला एवं सेशन न्यायाधीश) अय्यूब खान, जिला कलक्टर संदेश नायक, पारिवारिक न्यायालय के न्यायाधीश सुरेशचन्द बंसल, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव राजेश कुमार दड़िया एवं अभिभाषक संघ के अध्यक्ष पवन कुमार शर्मा ने कलेक्ट्रेट परिसर से जागरुकता रैली को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया।
इस अवसर पर अय्यूब खान द्वारा इन्द्रमणी पार्क में उपस्थित सभी को बालिका शिक्षा के महत्व के बारे में बताते हुये प्रत्येक बच्चे के अनिवार्य शिक्षा के अधिकार की जानकारी दी। सचिव राजेश कुमार दड़िया द्वारा इन्द्रमणी पार्क में रैली के समापन के पश्चात् भारत के संविधान की प्रस्तावना का वाचन किया गया। इस दौरान विधिक साक्षरता शिविर का आयोजन किया गया, जिसमें अनिवार्य शिक्षा एवं बालिका शिक्षा के बारे में जानकारी दी गई तथा शिक्षा से वंचित बच्चों को विद्यालयों से जोड़ने का आह्वान किया गया। उन्होंने बालिका शिक्षा पर जोर देते हुये समाज में महिलाओं की भूमिका के बारे बताया तथा महिला अधिकारों की विस्तृत जानकारी दी तथा महिला अधिकार, बाल विवाह, कन्या भू्रण हत्या, दहेज प्रथा आदि के बारे में भी बताया गया।
कार्यक्रम में राजकीय बागला बालिका उमावि, नवाकंंुर शिशु अकादमी स्कूल, राजकीय बागला स्कूल, विधि महाविद्यालय, महात्मा गांधी विद्यालय नम्बर 15, सर्वहितकारिणी पुत्री पाठशाला, जैन श्वेताम्बर, रा.उ.प्रा.वि. नम्बर 7, रामकुमार नानीबाई, लक्ष्मीपति सिंघानिया एकेडमी, लिटिल फ्लोवर, स्मॉल वण्डर चिल्ड्रेन एकेडमी, केन्द्रीय विद्यालय, एन.सी.सी. कैडेट्स एवं स्काउट के छात्र/छात्राओं एवं विभिन्न विद्यालय के छात्र/छात्रओं ने भाग लिया। इस अवसर जिला प्रशासन के कर्मचारीगण, जिला पुलिस प्रशासन के कर्मचारीगण, पुलिस लाईन के जवान, जिला नर्सिंग सेन्टर की छात्राएं, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, न्यायिक कर्मचारीगण, झुंझुंनू पर्यावरण सुधार समिति के कर्मचारीगण एवं अन्य संस्थाओं के प्रतिनिधि तथा आमजन ने भाग लिया। कार्यक्रम में पुलिस के जवानों, इन्द्रमणी पार्क के कर्मचारीगण एवं विद्यि महाविद्यालय के छात्रों ने कार्यक्रम में सहयोग प्रदान किया।
इस दौरान मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट राजेश कुमार-ाा, न्यायिक मजिस्ट्रेट महेश्वरी बरोड़, ट्रेनी मजिस्ट्रेट मोहनलाल मीणा, जितेन्द्र कुमार ढ़ुकिया, अति. मुख्य कार्यकारी अधिकारी नरेन्द्र चौधरी, पीआरओ अजय कुमार, महिला एवं बाल विकास विभाग के सहायक निदेशक संजय कुमार, शिक्षा विभाग के संयुक्त निदेशक ओमप्रकाश फगेड़िया, अति. जिला शिक्षा अधिकारी (माध्यमिक) सांवरमल गहनोलिया, जिला शिक्षा अधिकारी (प्रारम्भिक) योगेश्वर, विधि महाविद्यालय के प्राचार्य श्रवण कुमार सैनी, सीबीईओ सुरेश कुमार धोलपुरिया, आरपी, हवासिंह सहारण, एसीबीईओ हरिप्रसाद, वृत्ताधिकारी सुखविन्द्रपाल, नर्सिंग ट्रेनिंग सेन्टर के अधीक्षक डॉ. कुलदीपसिंह, टयूटर सुनीता, शारदा, महेन्द्र शर्मा, व्याख्याता मनीष कुन्दना, अधिवक्ता रामेश्वरलाल प्रजापति, व्याख्याता अमरसिंह कस्वां, अध्यापकगण तेजपाल, स्वीटी, संगीता, तरूणा, काशीराम, आदिल, सुरेन्द्र, प्रमोद पूनियां, विजय जटिया, चंदा सैनी, नीतू उपस्थित रहे।
विधिक साक्षरता शिविर ः- सचिव राजेश कुमार दड़िया द्वारा राजकीय बागला बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय में बालिका दिवस के अवसर पर विधिक साक्षरता शिविर का आयोजन किया गया। शिविर में अनिवार्य शिक्षा एवं बालिका शिक्षा के बारे में विस्तार से बताते हुये शिक्षा के महत्व को बताया गया तथा महिला अधिकारों, बाल विवाह, कन्या भू्रण हत्या, दहेज प्रथा, घुंघट प्रथा इत्यादि विषयों के बारे में बने कानूनों की जानकारी दी गई। इस अवसर पर अति. जिला शिक्षा अधिकारी सांवरमल गहनोलिया, प्रधानाचार्य निर्मला गहलोत, व्याख्याता प्यारेलाल, संचालक दमयन्ती शर्मा, हरफुलसिंह कस्वां, न्यायालय स्टाफ धनवीर सिंह मोगा, राजकुमार स्वामी, सोहनलाल उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here