कर्जामुक्ति आंदोलनकर्ताओं ने व्यापारियों से मांगा समर्थन

0
592
कर्जामुक्ति

हनुमानगढ़। गुरूवार को किसान कर्जा मुक्ति आन्दोलन के सदस्यों ने आगामी 22 जुलाई को बाजार बंद में बाजर के दुकानदारों एवं विभिन्न संगठनों का सर्मथन लिया। ज्ञात रहे कि किसान कर्जा मुक्ति आन्दोलन ,किसान कर्जा मुक्ति एव स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट लागू कर फसलो की लागत पर 50 प्रतिशत लाभ देने की मांग पर आन्दोलनरत है, किसान कर्जा मुक्ती आर्थिक रूप से परेशान आत्महत्या के लिये मजबूर किसान की कर्जा मुक्ति एव फसलो के लाभकारी मूल्य की मांग को पूरा करने के लिये किसान कर्जा मुक्ति आन्दोलन आक्रमक संधि के तहत किसानों की कर्जा मुक्ति एवं फसलो के लाभकारी मूल्य देने की मांग पर बाजार बंद रखेगे। वर्तमान में किसानों की फसलो के मूल्य लगातार कम हो रहे है किसान की लागत दिनों दिन बढ़ रही है केन्द्र सरकार किसान की फसल का समर्थन मूल्य घोषित करती है परन्तु किसान की फसल समर्थन मूल्य पर क्रय नही की जाती । सरकार की किसान विरोधी नीतियों के खिलाफ खेती एव किसानी को बचाने के लिये हजारों युवा व किसान 22 जुलाई को बाजार बंद करवायेंगे । किसान नेता बलराम मक्कासर, कुलविन्द्र ढिल्लो व वेद जिंदल ने तमाम व्यापारीक संगठनो से गुरूवार को मिलकर बाजार बंद रखने का समर्थन मांगा और व्यापारियों ने आपार सर्मथन भी दिया जिसमें कपडा एसोसिएशन, इलेक्ट्रिक एसोसिएशन, किरयाना एसोसिएशन, सब्जी मंडी एसोसिएशन, सुंयक्त व्यापार संघ, व्यापार संघ, व्यापार मंडल, फुड्ग्रेन व्यापार मंडल हनुमानगढ़ ने खुला समर्थन देते हुये बाजार बंद रखने का आश्वासन दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here