ग्रामीणों के लिए वरदान साबित हुआ शिविर, 20 को मिला पालनहार का लाभ

0
270

जिला कलक्टर साँवर मल वर्मा, विधायक अभिनेष महर्षि ने शिविर का निरीक्षण कर बांटे पट्टे

रतनगढ। जिले की रतनगढ पंचायत समिति के दाऊदसर ग्राम पंचायत मुख्यालय पर सोमवार को लगा प्रशासन गांवों के संग शिविर ग्रामीणों के लिए वरदान साबित हुआ। विशेषकर उन 20 ग्रामीण परिवारों के लिए, जिन्हें पालनहार योजना से जोड़ा गया। उन्हें प्रतिमाह सरकार द्वारा निर्धारित सहायता राशि दी जाएगी।।

जिला कलेक्टर साँवर मल वर्मा एवं विधायक अभिनेष महर्षि ने दाऊदसर शिविर का अवलोकन किया और ग्रामीणों को पालनहार योजना के स्वीकृति पत्र आवासीय पट्टे और अन्य लाभ वितरित किए। इस मौके पर जिला कलेक्टर एवं विधायक ने विभिन्न विभागों की ओर से लगाए गए काउंटरों का निरीक्षण किया तथा अधिकारियों, कर्मचारियों व ग्रामीणों से बातचीत कर शिविर में दिए जा रहे लाभ के बारे में फीडबैक लिया। उन्होंने अधिकारियों एवं कर्मचारियों से कहा कि सकारात्मक सोच के साथ पूरी निष्ठा से काम करते हुए राज्य सरकार की मंशा के अनुसार ग्रामीणों को शिविर का लाभ दें। जिला कलेक्टर ने ग्रामीणों को संबोधित करते हुए कहा कि राज्य सरकार की विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं तथा शिविर में लाभान्वित करने के लिए दी गई शिथिलताओं के बारे में विस्तार से जानकारी दी और कहा कि ग्रामीणों को जागरुक होकर योजनाओं का लाभ उठाना चाहिए। उन्होंने कहा कि आमजन की सुविधा को देखते हुए सरकार ने शिविरों का दौरान हक त्याग की सुविधा भी प्रदान की है।
विधायक अभिनेष महर्षि ने क्षेत्र में पशु चिकित्सा केंद्र खोलने के लिए कैबिनेट मंत्री लालचंद कटारिया का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि सरकार द्वारा आमजन को लाभान्वित करने की मंशा के साथ इन शिविरों का आयोजन किया जा रहा है। आमजन को जागरुक होकर शिविरों का लाभ उठाना चाहिए। उन्होंने विधायक कोटे से किए गए कार्यों का जिक्र करते हुए कहा कि हम सभी को सकारात्मक सोच के साथ मिलजुल कर विकास के कार्यों में योगदान करना चाहिए।सामाजिक कार्यकर्ता इंद्राज खीचड़ ने कहा कि रतनगढ़ ब्लॉक में प्रशासन गांव के संग अभियान का समुचित लाभ लोगों को मिल रहा है तथा अधिकारियों एवं जनप्रतिनिधियों के आपसी समन्वय से ग्रामीणजन लाभान्वित हो रहे हैं। पूर्व प्रधान रणजीत सातड़ा ने अभियान के लिए राज्य सरकार की सराहना की और कहा कि जिला प्रशासन की तत्परता से पूरे जिले में अभियान का बेहतरीन क्रियान्वयन हो रहा है।उन्होंने दाऊदसर में क्षतिग्रस्त पेयजल टंकियों की खराब स्थिति के बारे में जिला कलेक्टर को अवगत कराया और डिस्मेंटल कराने का अनुरोध किया, जिस पर जिला कलेक्टर ने टंकियों का निरीक्षण करते हुए जलदाय विभाग के अधीक्षण अभियंता को दूरभाष पर निर्देश दिए कि वे स्वयं उपस्थित होकर टंकी का निरीक्षण करें और समस्या का समाधान करें। सरपंच विद्या देवी पारीक ने गांव की आवश्यकताओं से जिला कलेक्टर एवं विधायक को अवगत करवाया।शिविर प्रभारी एसडीएम विजेंद्र चाहर उपखंड में अभियान अंतर्गत किए जा रहे कार्यों की जानकारी दी और आश्वस्त किया कि सरकार के निर्देशानुसार आमजन को अभियान का पूरा लाभ दिया जा रहा है। उन्होंने बताया कि सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग की पालनहार योजना में बीस परिवारों को लाभान्वित किया गया। इसी प्रकार 104 आवासीय पट्टे प्रदान किये गए, प्रधानमंत्री आवास योजना में 20 को लाभान्वित किया गया। 23 को शौचालय सहायता स्वीकृत की गई। 8 को सामाजिक सुरक्षा पेंशन स्वीकृत की गई। 60 लोगों के रोडवेज के रियायती पास बनाये गए। 313 नामान्तरण किये गए, 77 खाता विभाजन किए गए। इसके अलावा विभिन्न योजनाओं में लोगों को लाभान्वित किया गया।इस दौरान पूर्व प्रधान संतोष तालणिया, पूर्व प्रधान गिरधारी लाल बांगड़वा, स्वरूप सिंह सेहला, तहसीलदार अशोक कुमार, विकास अधिकारी दलीप कुमार, सहायक निदेशक (सूचना एवं जनसम्पर्क) कुमार अजय, नायब तहसीलदार प्रवीण सैनी, ओमप्रकाश पारीक सहित बड़ी संख्या में अधिकारी,कर्मचारी, लाभार्थी एवं ग्रामीण उपस्थित थे। शिविर के दौरान अभियान में बेहतर कार्य करने पर नायब तहसीलदार प्रवीण सैनी, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के श्याम जांगिड़ सहित विभिन्न कार्मिकों का सम्मान किया गया। शिविर में सूचना एवं जनसंपर्क विभाग द्वारा प्रकाशित साहित्य का वितरण किया गया। फोटोकॉपी की निःशुल्क सुविधा इंद्राज खीचड़ की ओर से दी गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here