इंडिया में ‘टिकटॉक’ का विकल्प बनेगा ‘देसी कलाकार’

0
1280

रतनगढ़। चायनीज एप्प टिकटॉक पर सरकारी बैन के बाद अब आपका मनोरंजन करने आ गया है प्योर स्वदेशी एप्प ‘ देसी कलाकार’।केन्द्र सरकार ने 59 चायनीज मोबाइल एप्लीकेशन्स पर बैन कर दिया है, आदेश के अनुसार लोकल टेलेंट का सबसे बडा प्लेटफॉर्म और भारत की फेमस शॉर्ट विडियो एप्प ‘टिकटॉक’ भी भारत में इस्तेमाल के लिए बेन हो गई है।रतनगढ़ के ऊर्जावान युवा सुनील ढाका ने अपने तीन दोस्तो के साथ मिलकर प्यारे स्वदेशी एप्लीकेशन ‘Desi kalakar’ को तैयार किया और उसे गुगल प्ले स्टोर पर लॉंच कर दिया।लॉंच करने बाद से ही इस एप्लीकेशन को देशभर में शानदार रिस्पॉंस मिल रहा है।गुगल प्ले स्टोर से इस एप्प को मात्र सात दिनों में ही 1 लाख लोगों ने डाउनलोड किया है। ओर जुड़ने का क्रम अभी जारी है
सुनील ने बताया कि टिकटॉक की विदाई के बाद देशभर के कलाकारों को फिर से ऐसे प्लेटफॉर्म की तलाश थी जंहा वे अपनी कला का प्रदर्शन दुनिया के सामने कर सकें। उन्होने बताया है हांलाकि इस एप्प को हफ्तेभर पहले ही लॉंच किया है लेकिन एप्लीकेशन निर्माण को लेकर उनकी टीम पिछले 2 महीने से कड़ी मेहनत कर रही थी।लॉंचिग के साथ ही एक हफ्ते में ही ये एप्लीकेशने गुगल प्ले स्टोर पर 9वें नम्बर पर ट्रेंड कर रही है और प्ले स्टोर पर इस एप्लीकेशन को 4.6 रैंकिग मिल चुकी है।एप्लीकेशन की प्रोग्रामिंग किशन और सुनील ढ़ाका ने की है जबकि डिजाइन रोहित और अंशुल ने की है।
सुनील के अनुसार इस एप्लीकेशन को bD4u फ़िल्म के डायरेक्टर राकेश कुमावत, राजस्थान के प्रसिद्ध कॉमेडियन बनवारी लाल, पालियो राजस्थानी, सुनील कुमावत, रश्मि सुथार, रीता शर्मा, पूजा कुमावत, काका कजोड़ जैसे कलाकारों ने डाउनलोड किया साथ ही अपने पहले विडियो में ही इस एप्लीकेशन को डाउनलोड करने की अपील की है।
सुनील ने बताया कि छुपे हुए कलाकारों को मंच प्रदान करने के उद्देश्य के साथ शुरू किए गए इस एप्लीकेशन में समय के साथ नए—नए फीचर्स भी आते रहेगें ओर पैसे कमाने का एक जरिया दिया जाएगा, जिन्हे प्लेस्टोर के माध्यम से जारी किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here