मीडिया लोगों के व्यहवार में परिवर्तन लाने में सहयोग करे- जिला कलेक्टर संदेश नायक

0
691

चूरु में क्षेत्रीय मीडिया सम्मेलन “वार्तालाप” आयोजित

चूरु। पत्र सूचना कार्यालय जयपुर की ओर से आज चूरु में क्षेत्रीय मीडिया सम्मेलन “वार्तालाप” का आयोजन किया गया। इसका उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्रों में कार्यरत पत्रकारों को केंद्र और राज्य सरकार की कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी देना था। साथ ही इन योजनाओं की सफलता में मीडिया की भूमिका को भी इस कार्यशाला में रेखांकित किया गया। कार्यशाला का उद्घाटन जिला कलेक्टर संदेश नायक ने किया। अपने उद्घाटन भाषण में श्री नायक ने कहा कि लोगों के व्यहवार में परिवर्तन लाना मीडिया का मुख्य उद्देश्य होना चाहिये। उन्होंने कहा कि कोई भी योजना लोगों के सहयोग के बिना सफल नहीं हो सकती। श्री नायक ने कहा कि सोशल मीडिया के बढते प्रभाव के कारण योजनाओं का फीडबैक त्वरित गति से मिलने लगा है। जिला कलैक्टर ने कहा कि मीडिया को कोई भी खबर प्रकाशित करने से पह्ले तथ्यों को जांच लेना चहिये।
उद्घाटन सत्र को संबोधित करते हुए पत्र सूचना कार्यालय जयपुर की अपर महानिदेशक डॉ. प्रज्ञा पालीवाल गौड ने पत्र सूचना कार्यालय की गतिविधियों के बारे में जानकारी दी। उन्होंने बताया कि वार्तालाप का उद्देश्य मीडियाकर्मियों के साथ दो-तरफा संवाद स्थापित करना है ताकि सरकारी योजनाओं की जानकारी को आम लोगों तक प्रभावशाली ढंग से पहुंचाया जा सके। इसी सत्र में विकास पत्रकारिता पर अपने सम्बोधन में पत्रिका टी.वी. की सम्पादक डॉ मीना शर्मा ने कन्या भ्रूण हत्या रोकने में मीडिया की सजगता की ओर ध्यान आकर्षित करते हुये कहा कि इसी तरह अन्य सामाजिक सरोकारों वाली योजनाओं की सफलता में मीडिया की अहम भूमिका हो सकती है।

कार्यशाला का पह्ला तकनीकी सत्र राष्ट्रीय पोषण मिशन पर आयोजित किया गया। इसमें चूरु ज़िले के महिला एवं बाल विकास विभाग में उप निदेशक संजय कुमार ने बताया कि आने वाले वर्षों में कुपोषण की दर में दो प्रतिशत और रक्तअल्पता की दर में तीन प्रतिशत की कमी लाना सरकार का मुख्य लक्ष्य है। इसी सत्र में पत्र सूचना कार्यालय, जयपुर के निदेशक प्रेम प्रकाश भारती ने प्रस्तुतिकरण के माध्यम से केंद्र सरकार की 100 दिन की उपलब्धियों के बारे में मीडियाकर्मियों को जानकारी दी।
कार्यशाला का दूसरा तकनीकी सत्र स्वच्छ भारत मिशन पर आयोजित किया गया। इसमें जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी राम स्वरूप चौहान ने ज़िले में स्वच्छ भारत मिशन कि प्रगति के बारे में बताया। उन्होंने कहा कि इस समय जिले में ओ.डी.एफ. प्लस योजना प्रगति पर है जिसके तहत प्रत्येक पंचायत समिति को दो-दो लाख रुपये दिये जायेंगे। उन्होंने इस योजना के बारे में पत्रकारों द्वारा पूछे गए सवालों के जवाब भी दिए। इसी तकनीकी सत्र में महात्मा गांधी की 150 वी जयंती के उपलक्ष में गांधी दर्शन एवं पत्रकारिता पर एक विशेष सत्र रखा गया, जिसके मुख्य वक्ता जयपुर के वरिष्ठ पत्रकार राजेन्द्र बोड़ा थे। अपने उद्बोधन में श्री बोड़ा ने कहा कि महात्मा गांधी ने बहुत पह्ले ही हमें फर्जी खबरों के प्रति सतर्क कर दिया था।। उन्होंने पत्रकारों को सलाह दी कि वे सार्थक सामग्री प्रकाशित करें, लोक सरोकारों की बात करें और निश्पक्ष रहें। इसी सत्र में राजस्थान पत्रिका के ब्यूरो प्रमुख मधुसुदन शर्मा ने पत्रकारो से आग्रह किया कि वे अपने अपने प्रचार माध्यमों में आम लोगों की बात उठाये ताकि सरकारी योजनाओं में अपेक्षित सुधार लाया जा सके।
वार्तालाप के तीसरे तकनीकी सत्र में चूरु के जिला कार्यक्रम प्रबंधक आशीष खण्डेलवाल ने ज़िले में आयुष्मान भारत की प्रगति के बारे में बताया। इसी इसी सत्र में दैनिक भास्कर के ब्यूरो प्रमुख आशीष गौतम ने सरकारी योजनाओं की सफलता में प्रिंट मीडिया की भूमिका पर अपने विचार व्यक्त किए। कार्यशाला के अंत में एक फीडबैक सत्र आयोजित किया गया जिसमें पत्रकारों की सुरक्षा, उनके कल्याण, अधिस्वीकरण तथा आवागमन की समस्या को लेकर सुझाव दिए गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here