हरियाली के लिये दौड़ा चूरू

0
257

विधिक सेवा प्राधिकरण की ओर से हुई रन फॉर वन में जुटे हजारों युवा, प्रतिभागियों को मिले पौधे

चूरू। सुहाने मौसम और बदलियों की आवाजाही के बीच नेचर पार्क के मुक्ताकाश मंच में बैठे हजारों युवाओं ने जब पौधों को अपनी गोद में लेकर उसकी परवरिश बच्चों की तरह करने का संकल्प लिया तो जैसे प्रकृति भी मनुष्य की इस कृतज्ञता पर भाव-विभोर होती नजर आई।अवसर था राजस्थान राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के निर्देशानुसार पर्यावरण की सुरक्षा एवं आम व्यक्तियों को पौधे लगाने के लिये प्रेरित करने एवं पौधा गोद लेने के उद्देश्य से रविवार को आयोजित ‘रन फॉर वन’ के समापन का। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की ओर से आयोजित जागरुकता दौड़ ’रन फोर वन’ एवं 13 जलाई को आयोज्य राष्ट्रीय लोक अदालत के प्रचार प्रसार का शुभारम्भ जिला एवं सेशन न्यायाधीश अय्यूब खान ने हरी झंडी दिखाकर किया। इन्द्रमणी पार्क (धर्मस्तूप) से शुरू हुई दौड़ नेचर पार्क में जाकर संपन्न हुई। प्रत्येक प्रतिभागी को एक-एक पौधा भेंट किया गया।
इस मौके पर जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के अध्यक्ष डीजे अय्यूब खान ने कहा कि वर्तमान समय में जल, जंगल और जमीन को बचाने की चुनौती हमारे सामने है। जरूरत इस बात की है कि जैसे हम अपने बच्चों को बीमारियों से बचाते हुए उसकी बेहतर से बेहतर परवरिश करने की कोशिश करते हैं, वैसे ही हमें इन पौधों के लिए प्रयास करने हैं। इनकी समुचित देखभाल होगी, तभी आज हमारे द्वारा इस अभियान में दिया गया समय सार्थक होगा।

जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव राजेश कुमार दड़िया ने कहा कि प्राणवायु ऑक्सीजन देने वाले पेड़ों के लिए हमारा यह जज्बा चूरू की पारिस्थितिकी को बदल सकता है। आने वाली पीढ़ी के लिए हम इन पेड़ों से बेहतर कोई दूसरा उपहार नहीं दे सकते हैं। उन्होंने कहा कि इन पेड़ों को गोद लें, यह हमारे वो बेटे हैं जो हमें ऑक्सीजन देंगे। इनकी परवरिश में कोई कमी नहीं रहनी चाहिए। जिला नर्सिंग सेंटर के बजरंग हर्षवाल ने 22 जुलाई से शुरू हो रहे खसरा-रूबेला अभियान में टीकाकरण के लिए जागरुकता की बात कही। उप वन संरक्षक राकेश दुलार ने पौधे लगाने की तकनीक और देखरेख के लिए जरूरी बातें बताईं।
इस दौरान अपर जिला एवं सेशन न्यायाधीश रंजना सर्राफ, मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट राजेश कुमार-ाा, उप वन संरक्षक राकेश दुलार, शिक्षा विभाग के सहायक निदेशक ओमप्रकाश फगेड़िया, जिला खेल अधिकारी ईश्वरसिंह लाम्बा, अभिभाषक संघ के अध्यक्ष बजरंग लाल शर्मा, वरिष्ठ अधिवक्ता बीरबलसिंह लाम्बा, डीवाईएसपी सुखविंद्रपाल सिंह, विधि कॉलेज के प्राचार्य श्रवण सैनी, वरिष्ठ शारीरिक शिक्षक धर्मपाल धांधू, रामसिंह सिहाग, महिला थाना थानाधिकारी राजेश कुमारी, मनोज योगाचार्य, डॉ. एफ.एच. गौरी, डॉ. गोगाराम एवं श्री बाबूलाल, जेपी माहिच, डीआरसीएचओ डॉ सुनील जांदू, जिला शिक्षा अधिकारी संपत राम बारूपाल, एनसीसी प्रभारी उपस्थित रहे। संचालन बजरंगलाल शर्मा, अध्यक्ष, अभिभाषक संघ, चूरू ने किया।
इस दौरान प्रतिभागियों को राजस्थान राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा जारी प्रमाण पत्र एवं प्रत्येक प्रतिभागी को एक पौधा का वितरण किया गया। कार्यक्रम में राज. बागला बालिका उमावि, खेल अकादमी, सिंघानिया एकेडमी, नवांकुर शिशु अकादमी, एस.के. मेमोरियल, गल्र्स कॉलेज, इंडियन पब्लिक स्कूल, राजकीय बागला स्कूल, विधि महाविद्यालय, आजाद डिफेंस एकेडमी, राजकीय गोयनका स्कूल, लोहिया कॉलेज, लॉर्डस इंटरनेशनल, इंडियन डिफेंस, फौजी डिफेंस, एम.एस.डिफेंस, मॉर्डन बेबी हैप्पी स्कूल, गीताजंली पब्लिक स्कूल, अभियान डिफेंस, एन.सी.सी. कैडेट्स एवं स्काउट के प्रतिभागियों एवं अधिवक्तागण, जिला प्रशासन के कर्मचारीगण, जिला पुलिस प्रशासन के कर्मचारीगण, पुलिस लाईन के जवान, जिला नर्सिंग सेन्टर की प्रशिक्षु, न्यायिक कर्मचारीगण, नगरपरिषद के कर्मचारी, नेचर पार्क के कर्मचारीगण एवं अन्य संस्थाओं के प्रतिनिधि तथा आमजन ने भाग लिया। पुलिस के जवानों, नगरपरिषद, नेचर पार्क एवं वन विभाग के कर्मचारियों ने सहयोग प्रदान किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here